आम का रसगुल्ला बनाने की विधि

780

गर्मियों के दिनों में हम आम तो बहुत कहते है या आम का जूस पीते है लेकिन कभी भी आम की न तो कोई मीठी खाई और न ही कोई रेसिपी आपको पता है कोलकाता में आम से आम का रसगुल्ला बनाये जाते है और ये कोलकाता के लोगो को बहुत पसंद होते है रसगुल्ला बहुत ही स्वादिष्ट है इसे आम की प्यूरी से बनाया जाता है चलिए तो अब हम ही सीखते है कोलकाता के आम का रसगुल्ला बनाना.

ये रसगुल्ला बिलकुल इंडियन है जैसे आम हमारे इंडियन है वैसे ही बस फर्क ये है की आम से रसगुल्ला ज्यादा कोलकाता में बनाया जाता है इन्हे आप एक साथ 8-10 लोगो के लिए बना सकते है इनको बनाने में 1 से 1.5 घंटे में बना सकते है इसकी कैलोरी : 1680मील होती है ओर ये बिलकुल वेज रेसिपी है. आम से होने वाले फायदे और गुण

रसगुल्ले के लिए आवश्यक साम्रगी 

3/4 कप पके आम का गूदा
4 कप दूध
4 कप पानी
2-3 छोटा चम्मच नींबू का रस
इलाइची पाउडर
2 कप चीनी

आम का रसगुल्ला बनाने की विधि

एक कड़ाही में 1 लीटर दूध और आम का गूदा मिलाकर मीडियम आंच पर उबालने के लिए रखें जब दूध में उबाल आ जाए तो इसमें नींबू का रस डालें जब तक दूध अच्छी तरह से फट न जाए इसे लागातार चलाते रहें दूध फटने बाद इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें. जब यह ठंडा हो जाए तो इसे सूती कपड़े छानकर मट्ठा का पानी निकाल लें छानने के लिए, कपड़े को किनारों से कस कर पकड़ लें. और 2-3 बार छान लें छानने के बाद छेने को 2 बार पानी से धो लें. ऐसा करने से छेने से नींबू की खटास निकल जाएगी छेने को 30 मिनट तक लटकाकर रखें तय समय बाद इसे प्लेट पर निकाल लें.

और 10 मिनट तक अच्छी गूंदें यह चेक कर लें कि यह दबाने पर फट न रहा हो अब मिश्रण की छोटी-छोटी लोइयां लेकर हथेलियों से गोलाकार दें अब कड़ाही में 4 कप पानी डालकर तेज आंच में गर्म करें अब 2 कप चीनी और केसर मिलाकर धीमी आंच पर उबालते रहें जब बढ़िया चाशनी तैयार हो जाए तो इसमें छेने के बॉल डालकर ढक दें और 5 मिनट तक उबालें फिर इसका ढक्कन हटाकर इसे आराम-आराम से चलाएं रसगुल्ले अपने आकार से दोगुना हो चुके होंगे फिर से ढककर 5-7 मिनट तक उबले तय समय बाद रसगुल्लों को एक कटोरी में निकालें और ऊपर से चाशनी डाल दें सर्व करने से पहले 3-4 घंटे तक ठंडा होने के लिए रख दें और ठंडा ही सर्व करें.